Thursday, May 27, 2010

बेजुबान कि जुबानी

मेरी नयी कोमिक्स - पानी बचाने , पानी का सही उपयोग करने एवं पक्षियों को पानी उपलब्ध कराने पर बनायी है. 
सच कहू मुझे नहीं लगता मैंने पहली बार से कोई तरक्की की है पर में खुश हूँ कि आखिर मैंने कोमिक्स बनाने कि कला सीख  कर उसे कचरे में नहीं डाल दिया बल्कि उसका उपयोग किया और उसे जारी रखा... और  कोई भी कला धीरे धीरे ही मंज कर निखरती है... तो मैं आशाओं से भरपूर हूँ... और एक और  खुशखबर यह है कि जल्द ही में अपने शहर में कोमिक्स कि वर्कशॉप आयोजित करने जा रही हूँ.. बड़ो के आशीर्वाद ओर हमउम्र दोस्तों कि शुभकामनाये  एवं साथ चाहिए ...
- ओजसी  

5 comments:

  1. A very good and simple message... much needed.
    Now U can see the benefits of joining an aggregator. But I don't see the icon of Blogvani...
    & U know there are a great many new beautiful templates available for blogger? Try them out. Feel free to ask if need help.

    ReplyDelete
  2. Thank you Nishaant !
    I have joined blogvaani but I havent yet used its widget on my blog.. will do dat sooner again d same confusion... I like simplicity I am very well aware its an age of Presentation... u must present ur thing in most beautiful manner then only u will be looked at and appreciated...
    I know abt templates , I know how to use them but I am afraid i will again have to make my whole blog as all widgets will be disappear after using another template... I will try it when i will be completely free...
    BTW Thanks for ur suggestions ... :)

    ReplyDelete
  3. आप बहुत अच्छा प्रयोग कर रहे हो जी इस कला का......निरन्तर अभ्यास इसमें और निखार लाएगा.....आज जो सन्देश देना चाहा है वो स्पष्ट तो है ही साथ में नितांत आवश्यक भी है...आज हम पानी के महत्त्व को बस कागजो तक ही समझ पा रहे है...जब असल में अवसर मिलता है तो...बस....जैसे सब ठीक है....

    कॉमिक्स वोर्क्शोप के लिए शुभकामाए स्वीकार करे....

    कुंवर जी,

    ReplyDelete

Text selection Lock by Hindi Blog Tips